समर्थक

इनका अपराध सिर्फ इतना था की ये हिन्दू थे

अब ग़ालिब की उर्दूं में समझाता हूँ शायद कुछ गद्दार नामर्द सेकुलर जयचंदों को ये बात समझ में आ जाए..

हमने माना कि तगाफुल न करोगे लेकिन
खाक हो जायेंगे हम तुमको खबर होने तक......


Mr. Vimal Patak a Bangladeshi born Hindu was beaten to death with sticks as the Muslim mullas (priests) chanted "kill the Kafir!" (non-muslim).

इनका अपराध सिर्फ इतना था की ये हिन्दू थे...क्या अल्लाह यही सिखाता है..ये कर्म मस्जिद जैसी पाक(????) कही जाने वाली जगह में हुआ..और किया कठमुल्लाओं ने..
फिर भी में कहता हूँ की इश्वर उन्हें सदबुद्धि दे..


.................
ये तस्वीर मूलतः मानवाधिकार के एक संगठन ने ली है मगर कुछ और तस्वीरे है इस ब्लॉग पर देखें

http://mukto-mona.com/wordpress/?p=404

48 टिप्‍पणियां:

गंगाधर ने कहा…

यह कैसी पोस्ट आपने लगा दी आशुतोष जी, उफ़ इससे बड़ी क्रूरता क्या होगी. मैं किसी धर्म के ऊपर न तो इलज़ाम लगाऊंगा. और नहीं किसी को अपशब्द कहूँगा. पर एक सवाल मुसलमानों और उन डरपोक हिन्दुओ से पूछं चाहूँगा.
........ यह दृश्य कैसा लगा.. मजा आया आपको. खूब मजा आया होगा मुझे पता है....... एक बेबस इन्सान की आंखे निकल ली गयी सिर्फ इसीलिए की वह हिन्दू है. क्या हिन्दू होना कोई गुनाह है. यदि गुनाह है वह खुदा जिसके नाम पर, उसी के घर में एक हिन्दू की आंख निकलकर इतनी निर्मम हत्या क्यों की गयी....... आप को मजा जरूर आया होगा क्योंकि मुसलमान इस लिए मस्त होगा क्योंकि क्योंकि मस्जिद में खड़े उसी के भाई बहुत खुश नजर आ रहे है. मौलवी साहब के चेहरे पर बड़ी शांति है. इस्लाम के नाम पर एक हिन्दू की बलि चढ़ाकर वह सूकून महसूस कर रहा है.
खुद को धर्मनिरपेक्ष और सेकुलर कहला कर खुश होने वाले हिन्दुओ. चुपचाप तमाशा देखते रहो नहीं तो मुसलमान नाराज़ हो जायेगा. तुम्हारी वोट ख़राब हो जाएगी. हार गए तो तुम्हारी बहन बेटियों की शादी कैसे होगी और जीत गए तो फिर क्या कहना कुबेर तुम्हारे यहाँ दरबार लगाएगा ही. अब अन्नदाता कुछ भी करे उन्हें तो माफ़ करना मजबूरी है. बेवकूफ था साला जो मर गया... हिन्दू धर्म की आन-बान और शान के लिए जान दे दिया .. हिन्दू उसे खर्ची पहुंचाएगा.
मुसलमान आज तक अल्लाह के सिवा किसी का अस्तित्व नहीं माना.... उसकी नजर में भगवान राम और कृष्ण एक राजा थे और कुछ नहीं.. हिन्दुओ का कोई भगवान नहीं होता, ब्रह्मा विष्णु और शिव बस कहानी के पात्र है और कुछ नहीं.
और जिद पर अड़कर जान दे बैठा.. अरे अल्लाहो अकबर ही तो कहना था.
और देखिये यहाँ पर visit करने वालो की संख्या ४०० पार कर गयी, पर कोई भी अनुसरण करने की हिम्मत नहीं जुटा रहा है. कही मुसलमान नाराज़ हो गया तो.. तुम्हारे घर में घुसने की ताकत सलीम खान में है. पर तुम्हारी नहीं....... तभी सलीम खान जैसे लोंगो के घर में जाकर जी हजूरी करते हो... सोच लो जब खुदा के में यह हो रहा है तो वहा तुम्हारा क्या होगा.
आशुतोष जी ऐसी दर्दनाक हकीकत से रूबरू कराने के लिए आपको बार-बार प्रणाम जय श्री राम

abhishek1502 ने कहा…

ये है सच्चाई
जब तक ये अल्पसंख्यक है तब तक सेकुलर और जैसे ही बहुसंख्यक हुए शरियत के हिसाब से
समझने की बात ये है की जब बुनियाद ही गलत हो तो सही की आशा करना महामुर्खता है , इन की बुनियाद ही ७२ हूरो और गिलमा के जन्नती प्रलोभन , जन्नती शराब और गैर मुस्लिम औरतो से बलात्कार तक को अल्लाह का हुक्म बता कर हर गलत काम को सही बताती है .
हमने सबको अपनाया ,आश्रय दिया पर
हिन्दू बहुत छला गया . १००० सालो के जेहादी आतंकवाद का शिकार है ,
ये चेतना उसी की परिणिति है ,अब हिन्दू चेतना जाग रही है और अपने पर हुए हर अत्याचार का हिसाब ही मांगेगी .
गाँधी जी जो कायरता के बीज बो गए है उसे समूल नष्ट करना है . कांग्रेसी उस की उपज है

ZEAL ने कहा…

इंसानियत हाहाकार कर दे और दिल चीत्कार कर दे इस चित्र को देख कर । यदि ये धर्म है तो फिर हैवानियत किसे कहते हैं ?

rubi sinha ने कहा…

धर्म के नाम पर ऐसी हैवानियत सिर्फ इस्लाम में है. खुदा के घर में इंसानियत का खून शर्म आती है.

हल्ला बोल ने कहा…

ऐसे तमाम कारनामे इसी हिंदुस्तान में हो रहे हैं आशुतोष जी, मुस्लिम तुस्टीकरण निति के चलते अभि हिन्दुओ को बहुत कुछ सहना होगा, फिर भी जिसे विश्वास न हो मुस्लिमो द्वारा ऐसी क्रूर हरकत होती है वह किसी भी मुस्लिम मोहल्ले में जाकर देख ले.. पूरे माहौल में एक अंजना सा भय समाया रहता है. हिन्दुओ को चाहिए की कुरान भी पढ़े, ऐसा क्यों होता है उनकी समझ में आ जायेगा.

हल्ला बोल ने कहा…

इस फोटो का लिंक देना चाहिए आपको.

आशुतोष ने कहा…

link hai

http://mukto-mona.com/wordpress/?p=404

ROHIT ने कहा…

मुझे इस फोटो को देखकर जरा सा भी आश्चर्य नही हुआ.
पूछो क्यो ?

अरे भाई राक्षसो से और क्या उम्मीद की जा सकती है.
जो आदमी राक्षसो से इंसानियत की उम्मीद करता हो.उससे बड़ा मूर्ख कोई नही.

हरीश सिंह ने कहा…

ओफ़ इतनी क्रूरता वह भी धर्म के नाम पर, जहाँ पर मुसलमानों की संख्या अधिक है वहा हिन्दुओ का रहना दुश्वार है. कई घटनाओ को हमने खुद देखा है. भदोही में ही मुस्लिम बस्तियों में रहने वाले हिन्दू अपने धार्मिक आयोजन भी डर कर करते हैं. कई लोग घर बेचने को मजबूर हो गए.. मैंने तसलीमा नसरीन की किताब "लज्जा" पढ़ी है. पढ़कर जो पीड़ा मन में हुयी थी उसे मैं व्यक्त भी नहीं कर सकता. कश्मीर के हालात हम देख ही रहे है. . आश्चर्य होता है क्या कोई धर्म इतनी हिंसा करने की छूट दे सकता है. इतिहास गवाह है किस तरह हिन्दुओ को प्रताड़ित करके धर्म परिवर्तन करने के लिए मजबूर किया गया.
पर इसके लिए दोषी हम भी हैं. जाति के नाम पर हिन्दू बाँट दिया गया. जिसका फायदा अन्य कट्टर लोंगो ने उठाया. ब्लॉग पर भी देखिये हिन्दू बलोगर एक दूसरे को गाली देकर हिन्दुओ की बात करते हैं. क्या इससे हम समाज को जोड़ पाएंगे, कदापि नहीं. यदि हम खुद में परिवर्तन नहीं लायेंगे ऐसी घटनाएँ घटती रहेगी.. हमारी आपसी फूट का फायदा दूसरे लोग उठाते हैं.
एक दुखद सच दिखाने के लिए आपका आभार. जय श्री राम, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति, ओम शांति,

हरीश सिंह ने कहा…

दिल द्रवित हो उठा,

कौशलेन्द्र ने कहा…

आशुतोष जी ! इस्लाम धर्म दुनिया में भाईचारे और प्रेम का सन्देश देने वाला दुनिया का एक मात्र धर्म है (गोया बाकी धर्म सिर्फ नफ़रत और दुश्मनी फैलाने वाले हैं ) ....ऐसा बहुत से भारतीय मुस्लिम अपनी तहरीर में फरमाते हैं ....एक ब्लॉगर हैं सलीम जी ...उन्होंने तो इस देश से भ्रष्टाचार समाप्त करने का और इसे ज़न्नत बना देने का एक मात्र सफल नुस्खा फरमाया है कि भारत को इस्लामिक देश बना दिया जाना चाहिए.बांग्ला देश में, जो कभी बृहत्तर भारत का एक भाग रहा है, ऐसी घटनाएँ हो रही हैं तो इसके लिए निश्चित ही भारत विभाजन के समय की अदूरदर्शी कुनीतियाँ रहीं हैं ...और इसके लिए मैं हिन्दुओं को ही दोषी मानता हूँ. कुछ ब्लॉगर मुल्ले अपने ब्लॉग में भी सेक्युलर कंट्री के नाम पर फरमाते रहते हैं कि उनका एक मात्र उद्देश्य भारत में इस्लाम का प्रचार है. मैं खुले आम इस पक्षपातपूर्ण और मूर्खतापूर्ण सेक्यूलरिज्म का विरोध करता हूँ. व्यावहारिक पक्ष तो यह है कि भारत में किसी विदेशी धर्म के प्रचार की अनुमति नहीं होनी चाहिए ...यह अनुमति दी गयी है ...इसीलिये तमाम अनावश्यक झगड़े शुरू हो गए हैं. मैं भारत में प्रचलित हिन्दू धर्म सहित सारे धर्मों पर प्रतिबन्ध लगाये जाने और केवल राष्ट्रधर्म लागू किये जाने के पक्ष में हूँ. और यह राष्ट्रधर्म भारत के प्राचीन मूलधर्म से पृथक और कुछ नहीं हो सकता.

E-Guru Rajeev ने कहा…

हे राम !
रामजी उसकी आत्मा को शांति प्रदान करें.

Abhi ने कहा…

इस तरह की न्यूज़ में एक भी मुस्लिम कमेन्ट नहीं करता. अब उनको शांति के एक मात्र धर्म की नीचता नहीं दिखती है क्या ?

हल्ला बोल ने कहा…

कौशलेन्द्र जी, इस्लाम धर्म दुनिया में भाईचारे और प्रेम का सन्देश देने वाला दुनिया का एक मात्र धर्म है, यह बात तो इस्लाम के मानने वालो पर भी लागू नहीं होती, उनका कम ही आपस में लड़ना है. इसका एकमात्र मकसद सरे धर्मो को उखड फेंकना है ताकि सारी धरती को हिंसा और बेशर्मो का अड्डा बनाया जा सके. जिस धर्म में जन्नत की लालच देकर हूरों का सपना दिखाया जाता हो वह धर्म क्या शांति फैलाएगा.
और अभी जी सच तो झूठो का मुह बंद करता ही है. वे क्या कमेन्ट करेंगे.

lokendra singh rajput ने कहा…

इसी क्रूरता की वजह से पाकिस्तान में हिन्दू अब अंगुलियों पर गिनने लायक ही बचे हैं। जबरन उनसे इस्लाम कबूल करवाया जाता है, जो तलवार की नोक पर इस्लाम नहीं स्वीकारता उसकी बेरहमी से हत्या कर दी जाती है। उनकी बहू-बेटियों के साथ बलात्कार किया जाता है। बीते साल बहु संख्या में ऐसी खबरें मीडिया के माध्यम से सामने आई हैं, लेकिन हमारे देश के और अंतरराष्ट्रीय सेकुलरों का कलेजा नहीं पसीजा। न ही किसी बुद्धिजीवी ने इस पर अपनी कलम घसीटी।

भारतीय नागरिक - Indian Citizen ने कहा…

हे ईश्वर.. इतनी क्रूरता... और ये क्रूरता करने वाले अपने लिये धार्मिक कहलाते हैं.... यह कौन सी निरपेक्षता है..

निर्झर'नीर ने कहा…

sach ko sach kahenge to neta bhookhe mar jayenge ..inhe koi pani dene vala bhi nahi hai

Afjal ,kasab jaise logo ko kon bacha raha hai ??????????

salo ko turant fanshi de do aise jalladon ko 24 ghante m
sab thiik ho jayega .

chooti baat ने कहा…

bahut hi bhayanak manzar hai

V!Vs ने कहा…

ye bas haibaniyat h!

RameshGhildiyal"Dhad" ने कहा…

Kar iraade buland apne tod de pinjra tu saiyaad ka
chal padegi jab churi kya karoge is jahaanabad ka


kis ka intejaar kar rhe ho bhai?.....apni-apni jimmedaari tai karo aur nikal pado....

बेनामी ने कहा…

mai nazir ek musalman ,par mai hindu bhi hoon,kyon kyonkimai hindustan ka hoon,mai hindibhashy hoon(zara ekbar sachchey dil se janney ki koshish karey hindu kya hai).thoda wo photo bhi dikaye jis me ek thakur dalit ko kuaan par bandh kar pita is liye ki sme pani piya,dalit dulhey k ghidey se utar diya kyonki wo us muhalley se guzar raha tha,kuch hindu ne sikh ka qatleyaam sirf ek indira ke hatya par sikh ke sath kiya,

par photo me dikhey sin ka mai samarthan main nahi kar raha,musalman me do giroh hai,ek sufism mananey waley aur ek had darjey girey huye salfi yana wahabi
(jin ka maqsad hi hai koi khush na rahey).ye to pakistan me mazzar par dhamaka kartey hai aur khud musalman ko pitatey hai,to jab bhi ye harkat dekhey to ye wahi tathakathit musalman hi kartey hai.
ek aur ye ki duniya me zyada sufi muslam hai.
apna vichardhara me krnty laye mazhab se na jodey,aap lakh hawala de mai allah ko chor kar kisi ki ibadat nahi kar sakta,par mai kisi dharm ke god ki behurmaty kar allah ke banaye qanoon ka khilly bhi uda sakta(quran me strictly mana hai)

हरीश सिंह ने कहा…

नज़ीर भाई मैं आपकी बात का समर्थन करता हूँ. इंसानियत से बढ़कर कोई धर्म नहीं होता, यदि कोई भी धर्मशास्त्र मानवता के विरुद्ध शिक्षा दे तो उसे नकार देना चाहिए, जो लोग भी ऐसी घटनाओ को लेकर इस्लाम पर अंगुली उठाते हैं, वे गलत है पर उन्हें अंगुली उठाने का मौका कौन देता है. जिस तरह आपने अपनी बात रखी उसी तरह मुस्लिम ब्लोगरो को अपनी बात रखनी चाहिए, पर कोई भी सामने नहीं आता उसे आप क्या कहेंगे. मैं नहीं मानता की आप मुसलमान है और आपका नाम नज़ीर है. बेनामी बनकर कमेन्ट करने वाले आप निश्चय ही कोई हिन्दू है जो मुस्लिमो का पक्ष रख रहा है.

बेनामी ने कहा…

improve search engine rankings seo ranking backlinks high quality backlinks

बेनामी ने कहा…

hiya and welcome vishvguru.blogspot.com owner found your blog via search engine but it was hard to find and I see you could have more visitors because there are not so many comments yet. I have found website which offer to dramatically increase traffic to your website http://xrumerservice.org they claim they managed to get close to 1000 visitors/day using their services you could also get lot more targeted traffic from search engines as you have now. I used their services and got significantly more visitors to my website. Hope this helps :) They offer backlink check seo article backlink service backlink builder Take care. John

बेनामी ने कहा…

Awseome article, I am a big believer in leaving comments on blogs to help the blog writers know that they’ve added something of great benefit to the world wide web! Payday Loan

बेनामी ने कहा…

Somebody necessarily assist to make significantly articles I might state. That is the very first time I frequented your web page and so far? I surprised with the analysis you made to create this particular publish amazing. Magnificent process! Payday Loans

बेनामी ने कहा…

He gains a great deal who loses a vain hope. Payday Loans

बेनामी ने कहा…

Wonderful blog! I found it while browsing on yahoo news. Do you have any suggestions on how to get listed in yahoo news? I’ve been trying for a while but I never seem to get there! Cheers TN Unicoi Payday Loans

बेनामी ने कहा…

I am regular visitor, how are you everybody? This post posted at this web page is truly good. CA Novato Payday Loans

बेनामी ने कहा…

Thanks for sharing excellent informations. Your website is very cool. I am impressed by the details that you¡¦ve on this site. It reveals how nicely you understand this subject. Bookmarked this web page, will come back for extra articles. You, my friend, rock! I found just the information I already searched all over the place and simply could not come across. What a perfect website. Payday Loan

बेनामी ने कहा…

Just added this blog to my favorites. I enjoy reading your blogs and hope you keep them coming! http://lovemypayday.com/Payday-Loans/SC/Marion/

बेनामी ने कहा…

What include the top payday lenders in Australia? http://lovemypayday.com/Payday-Loans/CA/Pacifica/ Presence of online option along with the absence of savings the payment will 1000 without pledging all kinds of collateral. Rightly so, mainly because it does sound as when the lending with Percentage should apply for our loans and obtain things done. Any short-term crises may be comes to qualification given by most lenders, and you happen to be done with it. Each pay day loan firm will possess a large number pay payments, criteria in addition to your leftover funds.

बेनामी ने कहा…

Don't learn about battery info but if you want to find a lot of info about your personal computer - install and run Belarc Advisor. Loads of information on hardward and software http://lovemypayday.com/Payday-Loans/IA/Edgewood/ Whenever you see it very challenging to cope up while using of details person has a bad credit history. You need to settle them back in small, and days or bank as will to completely create hassles a lot to suit your needs. We have to have some financial sources loans a out crunches, loans that are easily found. Is it fair to point out that Payday Loans such one predicted more usually turning up lenders give time on rented accommodation.

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com Payday Lenders TX Alamo विश्वसनीय लेखकों और उच्च फ्रीलान्स लेखकों के लिए है कि आप सकारात्मक सेवा और कॉलेज निबंध मदद के बारे में अपने तनाव जारी , इंटरनेट पर शोध पत्र खरीदने और आप निबंध आदि लिख सकते हैं इंतज़ार कर रहे हैं

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com Payday Loan MO Jefferson-City कोई व्यक्तिगत गारंटी आवश्यक यदि व्यापार में विफल रहता है और संघर्ष राजस्व , व्यापारी सिर्फ लिए बाध्य है बदला नहीं

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com Cash Advance CA Los-Alamitos किसी भी घटना में , Hawkes एट अल पाया पेरोल खर्च नाटकीय रूप से काटा जा सकता है अगर कारोबार उनके वेतन संरचना के कार्यकाल पर आधारित नहीं सुधार , जबकि कंपनी का उपयोग किया जाएगा , लेकिन आगे कंपनी के अंदर प्रगति पर

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com look at this web-site एक समय में जब वित्तीय क्षेत्र भारी परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है , और बैंकों के लिए अतिरिक्त शुल्क जोड़ और मुक्त खातों सिलसिला तोड़ देना दबाव के तहत कर रहे हैं , उधार देने की संस्थाओं एक नखलिस्तान के रूप में लग रहे हो

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com visit this web-site मैं भी मेरे बोतल वोदका के शेष के रूप में के रूप में अच्छी तरह से कोक मैं आमतौर पर इसके साथ पिया लाया था

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com made my day आप एक दो सप्ताह के लिए इसे से छुटकारा भुगतान शुल्क के साथ इस सेवा की वजह से 25 डॉलर है

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com speaking of किसी को भी घटना आप प्रयास अंदर डाल में जानने के लिए एक बहुत कुछ है

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com you can try these out भारत में सोने और नवोदित निवेशकों के एक बहुत कुछ के लिए सबसे बड़ा उद्योग है वित्तीय सुरक्षा के लिए सोने में निवेश करने और स्वस्थ लाभ प्राप्त

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com my company क्योंकि एक जीआईएस डाटासेट सामान्य रूप से पर्यावरण और भौगोलिक खतरों में शामिल होंगे, आप अपने aboveground सुविधाओं पर एक संकट तैयारियों कार्यक्रम के लिए एक मार्ग के रूप में जोखिम कारकों को कम करने के लिए संस्थान में सक्षम हो जाएगा

बेनामी ने कहा…

www.vishvguru.blogspot.com straight from the source व्यावहारिक रूप से सभी जेलों और काउंटी जेलों में एक commissary मौजूद है जो कैदियों सुविधा दुकानों पर आपूर्ति के तुलनीय हम करते हैं पाने के लिए यह संभव बनाता है

बेनामी ने कहा…

vishvguru.blogspot.com view publisher site उदाहरण किरायेदारों और गैर घर मालिकों के लिए लोगों को इस श्रेणी के अंतर्गत सबसे अधिक लाभान्वित वाले हैं

बेनामी ने कहा…

Hey there! I simply wish to give you a huge thumbs up for the excellent information you have got right here on this post. I'll be coming back to your blog for more soon.

[url=http://onlinepokiesking4u.com]onlinepokiesking4u.com[/url]

बेनामी ने कहा…

Howdy! I just wish to give you a big thumbs up for the excellent information you have right here on this post. I am coming back to your blog for more soon.

[url=http://onlinepokiesking4u.com]click here[/url]

बेनामी ने कहा…

You are so awesome! I do not suppose I've truly read through anything like this before. So good to discover somebody with genuine thoughts on this topic. Really.. thank you for starting this up. This site is one thing that is required on the internet, someone with a bit of originality!

[url=http://truebluepokies4u.com]Truebluepokies4u[/url]

बेनामी ने कहा…

buy tramadol online do you withdrawal tramadol - tramadol 50 mg sleep