समर्थक

फिजा में है गर्जना, एक नौजवान की...

वन्दे मातरम आदरणीय बंधुओं,
मेरा एक छोटा सा प्रयास आपके सम्मुख है .........

अन्ना हजारे के अनशन पर 

 
राम लीला मैदान से, बहती हुई हवा,
आमद है यकीनन, एक नये तूफ़ान की.........
जागो, उठो, लडो, कि तुम्हे जीतना ही है,
फिजा में है गर्जना, एक नौजवान की........
लोकपाल पर जीत
ये, तेरी नही मेरी नही,
सरकार पर जीत ये, है जीत हिन्दुस्तान की......

बिखरते परिवारों
पर

गैरों से क्या शिकवा करूं, अपनों ने है ठगा,
मेरी जां ने ही लगाई कीमत मेरी जान की......... 
कल तक जहाँ रहती थी, खुशियों की ही सदा,
सन्नाटे में गूंजती है चीख , उस मकान की........

मजहब के ठेकेदारों पर

मजहब, धर्म, जातियों में, बट के कल तलक,
हम लूटते रहे जान, मजदूर की किसान की ........
हैं कोशिशें उनकी की हम, फिर्कों में हों बंटे,
पर चल ना सकी दुकनदारी, उनकी दुकान की.......

 
दिल चीर कर दिखाने से, हासिल कहाँ है कुछ,
जो दिखी ना सच्चाई उन्हें, मेरे ब्यान की........
उनको खबर कहाँ कि, जो खामोश हो
ज़बां,
ये शायरी ज़बां है किसी बेज़बान की........

6 टिप्‍पणियां:

वन्दना ने कहा…

आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
प्रस्तुति आज के तेताला का आकर्षण बनी है
तेताला पर अपनी पोस्ट देखियेगा और अपने विचारों से
अवगत कराइयेगा ।

http://tetalaa.blogspot.com/

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत खूबसूरत और मर्मस्पर्शी ...

NEELKAMAL VAISHNAW ने कहा…

बहुत ही सुन्दर पढ़ कर अच्छा लगा......
गणेश चतुर्थी की आपको हार्दिक शुभकामनायें
आप भी आये यहाँ कभी कभी
MITRA-MADHUR
MADHUR VAANI
BINDAAS_BAATEN

डा. श्याम गुप्त ने कहा…

"सरकार पर जीत ये, है जीत हिन्दुस्तान की....."

--तो भैया क्या सरकार हिन्दुस्तान की नहीं है ???

जीत हिन्दुस्तान की नहीं भारत की जनता की कहना चाहिए....

veerubhai ने कहा…

अच्छा लगा आपके ब्लॉग पर आना .बहुत अच्छी उत्साह वर्धक ,विश्लेषण परक पोस्ट .बधाई !

गैरों से क्या शिकवा करूं, अपनों ने है ठगा,
मेरी जां ने ही लगाई कीमत मेरी जान की.........
कल तक जहाँ रहती थी, खुशियों की ही सदा,
सन्नाटे में गूंजती है चीख , उस मकान की........

rakesh gupta ने कहा…

वन्दे मातरम दोस्तों,
वन्दना जी , कैलाश जी, नील कमल जी, श्याम गुप्त जी, वीरू भाई जी,
आप सभी मेरे ब्लाग पर आप सभी का हार्दिक आभार,
आदरणीय गुप्त जी सच है की सरकार हिन्दुस्तान की ही है ........ mgr bandhuwr usme vaastv me hindustaani kitne है.....