समर्थक

भ्रूणहत्या एवं कैंसर को बढ़ावा देते गर्भनिरोधक

किसी दवाई की दुकान मे नज़र घुमाने पर कुछ दिखे ना दिखे पर कुछ नाम ऐसे होते हैं जिनपर आंखे अटक ही जाती है .... जैसे i–pill, unwanted-72, e-pill (जी हाँ .... मैं बात कर रहा हूँ गर्भनिरोधक गोलियों और इंजेक्शनों की, जिसे सरल भाषामे “contraceptive pills/injections” कहा जाता है) ... औए ये सिर्फ दवाई दुकानों में ही नहीं, करीब करीब सभी जनरल स्टोर्समे भी सुशोभनीय है ...


आइये जानते हैं कि ये उत्पाद भ्रूण मारनेके अलावा और क्या कारनामे करते हैं ....

(नाबालिग, कमजोर दिल वाले और सन्नि लियोनको आदर्श मानने वाले इस लेख से दूर ही रहें आदेशानुसार)

आज बाज़ार में जितनी भी गर्भनिरोधक गोलियां या इंजेक्शन हैं वो कुछ तकनीकों के आधार पर काम करते हैं

1 – Depo-Provera – यह गर्भनिरोधक इंजेशनों मे इस्तेमाल होनेवाली तकनीक है... इस तकनीक को जिस अमेरिकी कंपनी ने विकसित किया है, वो कंपनी अमेरिका मे इस तकनीक से बने इंजेक्शन नहीं बेच सकती (बेचारी कंपनी पर ही बैन लग गया है).... लेकिन ये कंपनी भारत मे धड़ल्ले से अपने इंजेक्शन बेच रही है (बधाई हो) ... इस तकनीक से बने इंजेक्शन गर्भाशय की कोशिकाओं की संख्या बढ़ा कर भ्रूण को मार देती हैं ... (मार लिया अपना अंश ... अब आगे पढ़ो) ... पर उसके बाद उन बढ़ी हुई कोशिकाओं को वापस कम कौन करेगा ?????? कालांतर मे आप गर्भाशय के ट्यूमर की दवा ले रहे होंगे (और अगर उन कोशिकाओं मे विष फैल गया तो ... कैंसर)

2 – NET-EN (Norethisterone Enantate) – ये भी इंजेक्शनों मे इस्तेमाल होती है ...ये पीयूष ग्रंथि (फिरंगियों के लिए “Pituitary gland”) की बाप-भाई एक कर देती है ... (और याद रहे कि पीयूष ग्रंथिसे निकलने वाले हारमोनके बिना आप तो क्या एनडी तिवारीभी को भी बच्चा नहीं हो सकता)

3 – RU496, Norplant – इसका उपयोग गोलियों मे होता है .... इस तकनीक को विकसित करने वालों का कहना है कि ये गर्भाशय को ढीला कर देता है, जिससे गर्भ नहीं ठहरता ... (तो गर्भाशय को वापस संकीर्ण उसका बाप थोड़ी करेगा) ... सही है ... गर्भाशय कालांतर मे पूर्ण रूप से ढीला हो जाता है ... इसकी वजह से लड़कियों को माहवारी के दौरान अत्यधिक रक्तस्राव और बेहोशी आती है ....

इसके अलावा इन सभी (तीनों तकनीकों ) के उपयोग में कमजोरी आना, सिरदर्द (माइग्रेन) और बोलने मे परेशानी, सीने मे दर्द, आकस्मित खांसी, एक या दोनों पैरों मे दर्द या सूजन, उल्टियाँ आना, योनि से खून आना, स्तनों मे सूजन, नींद ना आना, बुखार आना, शरीर मे खुजली होना, भूख ना लगना ... ये सामान्य बात है ...

(हो गया पढ़ लिया .... अब लिंक देखना है तो ये लो )

http://en.wikipedia.org/wiki/Depo-Provera#Side_effects

http://www.drugs.com/sfx/depo-provera-side-effects.html

http://en.wikipedia.org/wiki/Norplant#Side_effects

http://www.drugs.com/sfx/norplant-system-side-effects.html

http://www.webmd.com/drugs/drug-4455-Norplant+System+Impl.aspx?drugid=4455&drugname=Norplant+System+Impl&pagenumber=6

http://www.rxlist.com/norplant-side-effects-drug-center.htm

http://www.nhs.uk/medicine-guides/pages/MedicineSideEffects.aspx?condition=Contraception&medicine=norethisterone+enantate&preparation

(अब मैं क्या लिखूँ .... कुछ भी लिखुंगा तो कुछ लोग तो चिल्लाएँगे ही ... कोई बात नहीं ... चिल्लाओ, मेरा क्या जाएगा)
हो गया सब पढ़ लिया ... अब मेरी बात सुनो ....

प्यार का मतलब सिर्फ sex है क्या ????? विदेशियों के लिए होगा ... पर क्या हमारे लिए भी प्यार और sex मे कोई फर्क नहीं है ....

और एक बात लड़कियों के लिए (सारी लड़कियों के लिए नहीं ... सिर्फ उनके लिए जो इसका उपयोग करती हैं) .... अगर आप अपने पैर खोल कर sex कर सकते हो, तो आप मुंह खोलकर मना भी कर सकते हो ....

अगर बच्चे को पैदा नहीं कर सकते तो उसकी नौबत ही क्यों आने देते हो ?????

खैर .... ये सब बातें इस बिगड़ी पीढ़ी को समझाना बेकार है (शर्म आती है खुद को इसी पीढ़ी का हिस्सा कहते हुए) ....

आपने पूरा पढ़ा उसके लिए धन्यवाद .... अच्छा लगा तो इसे अपने पहचान वालों तक पहुंचाएँ .... और एक प्रण लें कि खुद ना तो इनका इस्तेमाल करेंगे ... और ना ही किसी को इस हालत मे पहुंचाएंगे ....
और अच्छा नहीं लगा तो .... क्या कहूँ ... जो चल रहा है चलने दो ... हम तो हैं ही बेवकूफ़, जो इन विधर्मियों को सुधारने चले हैं ....

साभार 
Saurabh Bhardwaj  फेसबुक 

कोई टिप्पणी नहीं: