समर्थक

भारत एकता: तलवार धार चलकर, है व्यवस्था तुझे बदलना.

भारत एकता: तलवार धार चलकर, है व्यवस्था तुझे बदलना.: तलवार है दुधारी, जिस पथ है तुझको चलना, है तेरे अपने हाथ ही, गिरना और सम्भलना...... सियासत में बहुत शातिर, है ये कॉंग्रेस प्यारे, गिरगिट ...

कोई टिप्पणी नहीं: